Thursday, November 2, 2017

177. आर्य मेघ उद्धार सभा, सियालकोट

आर्य मेघ उद्धार सभा, सियालकोट, जिसका प्रभाव और प्रचार मारवाड़ में पड़ा। उस पर पंजाब पास्ट एंड प्रेजेंट, वोल्यूम-21, पार्ट-1,पुस्तक में आये एक लेख को यहाँ दिया जा रहा है। इसके कॉमेंट में सारांश देखे व वैठ बेगार और उमेदाराम मेघवाल पुस्तिका भी देखे।



Wednesday, November 1, 2017

176. Naya Pind Sialkot


स्यालकोट, नया पिंड के मेघ, 1862
विस्तृत विवरण फिर किसी अन्य पोस्ट में दिया जायेगा! नया पिंड गांव मेघों का ही बसाया हुआ है।
            कैसे एक धार्मिक दृष्टिकोण किसी के जीवन और जीवन स्तर को बदल देता है?  इस पर अभी तक अध्ययन किया जाना है।
            इस पर हम बाद में विस्तार से पोस्ट करेंगे, प्रतीक्षा करें। यहां मेघों की एक समूह तस्वीर पोस्ट की गई है, जो 19वीं शताब्दी के दौरान मेघों के जीवन को दर्शाती है और जीवित है, इस तस्वीर को 1862 में एक किताब से लिया गया है, जैसा कि पहले के पोस्ट्स में कहा गया है कि आर्य समाज ने 19वीं सदी के अंतिम दशक में सियालकोट में मेघों के बीच काम करना शुरू किया था। आर्य समाज ने उन में कुछ स्कूली शिक्षा शुरू की थी।
            लेकिन शीर्षक तस्वीर आर्य समाज के रिकॉर्ड से नहीं है। यह ईसाई मिशनरियों के रिकॉर्ड से है। इस किताब में मेघों की कहानी बहुत दिलचस्प है, जिसे मैंने पढा और जहां से मैंने यह फोटो लिया है। इंतजार करें, मैं इस संबंध में आने वाले एक पोस्ट में इसके सारांश को बताने की कोशिश करूंगा।
           यहां आप इतिहास में 1862 के मेघों पर एक नज़र डाल सकते हैं।
           How a religious outlook change a life. Yet to be studied.
          We Will post detail latter on, wait for. Here is posted only a group photo of Meghs, reflecting their life and living during 19th century, this photo is taken from a book 1862, As said in earlier posts that Arya Samaj started work among Meghs in Sialkot in the last decade of 19th century and started some schooling.
       But captioned photo is not from Arya Samaji's records. It is from Christian Missionaries record. The story is very interesting in the book which I read and wherefrom I took this photo. So wait, I will try to narrate its summary in a coming post in this respect.
         Here you can give a look on Meghs of 1862.



175. The tribes and castes of Bombay















174. Mapping social exclusion







Saturday, October 14, 2017

https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=1651029348287220&id=1057816970941797