Monday, September 1, 2014

2. Megh - caste classification - मेघ : जातीय संस्तरण

H.A. Rose की एक पुस्तक है- "Tribes and castes of North West Province.............." उसके पृष्ठ 76 पर चमार और मेघ के जातीय संस्तरण और जातीय संघर्ष पर टिप्पणी हैदेखें-

"The Meg....................but he appears to be of a slightly better standing than Chamar; and this superiority is doubtless owing to the fact that the Meg is Weaver as well as a worker in leather, for weaving stands in the social scale a degree higher than shoe making like the Chamar of the plains the Megs work as coolies." (Reference as above, page-76, the same contentions are described by Ibbestsn.)



1 comment:

  1. मेघ : जातीय संस्तरण- इब्बेत्सन महोदय ने अपने सामाजिक अध्ययन के आधार पर यह पाया कि मेघों का सामाजिक जातीय क्रमिकता में स्थान चमार से ऊँचा इसलिए है कि वह बुनाई(weaving) से जुड़ा है। उनके आपसी संबंधों और संघर्ष का भी संकेत इससे हो जाता है। इब्बेत्सन की गवेषणा को ही रोज महोदय ने पुष्ट किया है।

    ReplyDelete