Monday, September 1, 2014

43. Megh, Meena and Meo have comman origin


जनरल कन्निंघमविवेनपवलेट आदि कई इतिहासकारों एवं पुरातत्ववेत्ताओं ने वर्त्तमान मेघों यानि मेघवालों का प्राचीन निकास प्लिनी के इतिहास ग्रंथों में वर्णित 'Megallae' से बताया है। जिसके उद्धरण 'Know your history-19' के पोस्ट में आप देख चुके हैं। भारत में मुगलों की सत्ता के समय मेघों का इस (मेघ/मेघवालनाम से उल्लेख भी नहीं मिलता है। जनरल कन्निंघम भी इस पर आश्चर्यचकित है।

दूसरी ओर कई पुरातत्ववेत्ताओं ने मुगलों की जातीयता को प्लिनी के Megallae लोगों से जोड़कर देखने का सायास प्रयास किया है। Megallae, Meg और Moghal इनके आपस का ताना बाना काफी उलझा हुआ है। इस क्षेत्र में अनुसन्धान अपेक्षित है। फ़िलहाल यहाँ मैं एक सन्दर्भ दे रहा हूँ जो मुगलों को Megallae से जोड़ता हैपुरातत्व वेत्ताओं ने जिससे मेघों का भी सम्बन्ध जोड़ा है:

"I am inclined therefore, to agree with Major Powlett that the Meos and Meenas may have had a common origin. I have suspicion that they may be descendants of Megallae, mentioned by Pliny, who dwelt between the Indus and Jamuna, apparently boarding on Jamuna. As the name is spelt Mewara, as well as Mev. I think that Akbar must have revived the old form which gives a very near approach to Megallae." P-28.

Reference: 'Report of a tour in Eastern Rajputana - 1882-83.
By Major General A. Cunningham. Culcutta, 1885 page-28

1 comment: